क्वाड संगठन क्या है?

what is kwad organization?

चर्चा का विषय क्यों?

हाल ही में कुछ दिन पहले, भारत और ‘क्वाड’ के तीन अन्य सदस्य देशों के वरिष्ठ अधिकारियों ने मिलकर स्वतंत्र और खुले विचारो से हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लक्ष्य को हासिल करने के लिए आपस में वार्तालाप की है। इसके अलावा, इन अधिकारियों ने बुनियादी ढांचे, समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद रोकने के उपाय और संपर्क क्षेत्रों में सहयोग को आगे बढ़ाने पर भी चर्चा की। भारत के विदेश मंत्रालय के मुताबिक़, चर्चा में भारत-प्रशांत क्षेत्र में Covid-19 के व्यापक प्रभाव और महामारी की रोकथाम तथा स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में सहयोगात्मक प्रयासों के महत्व पर विचारों का आदान-प्रदान करने का अवसर प्रदान किया। क्वॉड यानी ‘द क्वॉड्रि लैटरल सिक्यॉरिटी डायलॉग’। ये एक समूह है है जिसके 4 सदस्य देश हैं जिनमें जापान,अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और भारत शामिल हैं। इसका मकसद हिंद प्रशांत क्षेत्र में शांति बनाए रखना और चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकना है। इस समूह की पहली बैठक साल 2017 में मनीला में हुई थी। हिंद प्रशांत क्षेत्र के बारे में आपको के बताएं तो हिंद महासागर और प्रशांतया महासागर के सीधे जलग्रहण क्षेत्र में पड़ने से वाले देशों को ‘इंडो-पैसिफिक देश’ कहा है जा सकता है। इस्टर्न अफ्रीकन कोस्ट,में इंडियन ओशन तथा वेस्टर्न एवं सेंट्रल पैसिफिक ओशन मिलकर इंडो-पैसिफिक क्षेत्र बनाते हैं। इसके अंतर्गत एक महत्त्वपूर्ण क्षेत्र दक्षिण चीन सागर आता है। यह एक ऐसा क्षेत्र है, जिसे अमेरिका अपना वैश्विक दबदबा कायम रखने के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है, किन्तु चीन के द्वारा इसे चुनौती दी जा रही है। इस समय में इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में 38 देश शामिल हैं। यह देश विश्व के सतह क्षेत्र का 44 फीसदी, विश्व की कुल आबादी का 65 फ़ीसदी, विश्व की कुल GDP का 62 फीसदी और विश्व के माल व्यापार का 46 फीसदी योगदान देते हैं।

Leave a Comment